madhureo.com
Dastaan ek Masum ki - Madhusudan Singh
Click here to read part..1 जब सात साल के बच्चे की गर्दन लहूलुहान हुई होगी तब क्या बीती होगी उस मासूम पर ? उसकी भावनाओं को शब्दों में ब्यक्त करना तो नामुमकिन फिर भी एक छोटा प्रयास —- कितना तड़पा हूँ सब है,पता तुमको माँ, मैं बताया नहीं ये अलग बात है, कितने आँसूं बहे,सब …