madhureo.com
BHUKH - Madhusudan Singh
आज ये पटाखे वही फोड़ रहे हैं जिनके पास खाने की भरी थाली है।भूखे तो बेचारे आज भी पानी पीकर अपनी भूख मिटा रहे हैं। किसी की दीवाली, किसी का दिवाला, किसी की नसीब में, ना आज दो निवाला। !!!मधुसूदन!!! Follow my writings on https://www.yourquote.in/madhusudan_aepl #yourquote Follow my writings on https://www.yourquote.in/madhusudan_aepl #yourquote Popular Right NOW!