madhureo.com
Bhikhari - Madhusudan Singh
राम नाम को गाता जाए धुन में डफली बजा-बजा, दे दो रे दो पैसे बाबू, राम करेगा तेरा भला—2। सब लोगों के बीच में गाता, हाथ जोड़कर उन्हें मनाता, मिल जाते दो पैसे उसको, जिससे अपनी भूख मिटाता, जो भी समझा दर्द को उसके, आँख से आँसूं छलक गया, मानवता का चीख समझ, पाषाण ह्रदय …