madhureo.com
AYODHYA PRABHU RAM KI/अयोध्या प्रभु राम की । - Madhusudan Singh
Image Credit : Google जगमग पुनः अयोध्या देखा, दीपक संग जलते दिल देखा, देखे तेरे अश्क नयन हम संग संग तेरे रोते मेरे राम जी, कह दो कहाँ गए सब न्याय टाट में,खुद गुमशुम क्यों सोते मेरे राम जी। ये कैसा कलियुग है आया, अवधपुरी क्या रंग दिखलाया, जिस धरती का नाम राम से, वहीं …