kractivist.org
Happy Birthday Irom Sharmila- My Poem for you - Kractivist.org
आज मेरा रोम रोम चीख रहा है एरोम तुम्हारे लिए चीख पुकार तो कब से दबी थी गुस्सा भी चीख चीख के निकला था vt स्टेशन पे तुम्हारी रिहाई की गुहार लगाकर मानों तन और मनं ऐसा थरका था लोगों... Continue Reading →