kmsraj51.com
देखकर तेरी रजा को डूब मैं इतना गया। ⋆ KMSRAJ51-Always Positive Thinker
Kmsraj51 की कलम से….. ϒ देखकर तेरी रजा को, डूब मैं इतना गया। ϒ hindi poems देखकर तेरी रजा को, डूब मैं इतना गया। पागलों सा हो गया, अश्क नैनों में भरा॥ चल पड़ा उस ओर मैं, उम्मीद एक जोड़कर। फूल-फूल चुन लिए, पात-पात छोड़कर॥ हौसले बुलन्द हुए, संकेत तेरा मिल गया। देखकर तेरी रजा को, डूब मैं …