kmsraj51.com
जैन - "विशुद्ध वंदना" ⋆ KMSRAJ51-Always Positive Thinker
Kmsraj51 की कलम से….. ϒ जैन – “विशुद्ध वंदना” ϒ परम पूज्य आचार्य श्री विशुद्ध सागर जी महाराज के चरणों में समर्पित….. “विशुद्ध वंदना” वेष दिगम्बर धारी मुनिवर करुणा अब जगाएँगे। पार करो खेवैया नहीं तो हम भव में ठहर जाएँगे। भक्ति भाव से आपको पुकारें हे! विशुद्ध महासंत। कृपा प्रकटाओ अपनी नहीं तो हम किधर जाएँगे। आपने …