kmsraj51.com
अधूरी भक्ति। ⋆ KMSRAJ51-Always Positive Thinker
Kmsraj51 की कलम से….. ϒ अधूरी भक्ति। ϒ मृत्यु के उपरांत एक साधु तथा डाकू साथ-साथ यमराज की सभा में पहुँचे। यमराज ने अपने बही-खातों की जाँच-पड़ताल करके उनसे कहा-यदि तुम दोनों को अपने लिए कुछ कहना हो तो कह सकते हो। “डाकू विनम्र स्वर में बोला-महाराज मैंने जीवन में बहुत पाप किए हैं। जो भी दंड …