kmsraj51.com
आस्था और आशा ⋆ KMSRAJ51-Always Positive Thinker
Kmsraj51 की कलम से….. ♥ “आस्था और आशा” ♥ एक साधु थे। बाल्यावस्था से ही उन्होनें घर छोड़ दिया था और ईश्वर से लौ लगा ली थी। दिन-रात भर प्रभु का भजन करते। जब भूख लगती तो आस-पास के घरों के सामने खड़े हो जाते और भजन गाने लगते। उनका कंठ अत्यंत मधुर था, इसलिए लोग उन्हें …