kmsraj51.com
दराजों में गर्द किताबें खंडहर सी हुई जा रही है...। ⋆ KMSRAJ51-Always Positive Thinker
Kmsraj51 की कलम से….. ϒ दराजों में गर्द किताबें खंडहर सी हुई जा रही है…। ϒ ⇒ कुछ कड़वी सच्ची बातें, कुछ सुझाव। Dust Books ruins drawers being swollen. Some bitter truths, some suggestions. दराजों में गर्द खाती किताबें खंडहर सी हुई जा रही है। धड़कते दिल अब “किताबों” में चेहरे छिपाते नही है। तोहफों की फेहरिश्त से भी …