kavitasangrahonline.com
मजबूर कर दो
हमें सीने से लगाकर हमारी सारी कसक दूर कर दो, हम सिर्फ तुम्हारे हो जाऐ हमें इतना मजबूर कर दो। तनहाई में तड़पा करें मोहब्बत की तासीर इतनी तेज़ कर दो, तुम्हारी हर अंगड़ाई की याद आए हमे इतना मजबूर कर द…