jazbat.com
अब तेरे सामने मैं कोई सच नहीं कहता
इस दुनिया में जो अपनों से ठुकराए गए कोई पराया उसे अपनाए, ये मुमकिन है अब तेरे सामने मैं कोई सच नहीं कहता बात तुमको बुरी लग जाए, ये मुमकिन है-शायरी…