jazbat.com
फोटो शायरी – मुझसे दुख अपना छुपाते जा रहे हो
भटकते जा रहे हो, बरसते जा रहे हो प्यासी जमीं से रिश्ता निभाते जा रहे हो मुझे कितनी कसक है, तुझे मालूम है सब मगर मुझसे दुख अपना छुपाते जा रहे हो…