jazbat.com
मेरी आहें छलकती हैं शायरी ईमेज | shayari-love shayari-hindi shayari
मेरी आहें छलकती हैं या खामोशी के हैं शबनम निगाहों की सदा क्या है, खुदा जाने या तू जाने…