jazbat.com
शायरी – रास्तों में मिलते ही कतराते हैं लोग
शायरी मुझे देखकर ही डर जाते हैं लोग रास्तों में मिलते ही कतराते हैं लोग मेरी यारी जब किसी से बढ़ती है पीठ पीछे उसे खूब समझाते हैं लोग…