jazbat.com
शायरी- दुख ही तेरा साया है
जब से दुनिया में आया है दुख ही तेरा साया है एक नजर देख जालिम मीत पुराना आया है अपने भी, पराए भी सबने हमें रुलाया है जीवन भी एक दुख ही है इश्क में दुख ही पाया है ©RajeevSingh # love shayari #share p…