jazbat.com
शायरी – सौगात दी गम की चंद बरस के प्यार में उसने
कभी किस्मत ने दिया धोखा, कभी हमने उसे मारी ठोकर जिंदगी यूं ही गुजरी खुद से, लड़ने और झगड़ने में सौगात दी गम की चंद बरस के प्यार में उसने मौत के आखिरी पल तक तड़पे हम इंतजार करने में…