jazbat.com
शायरी – तू गुलाब सी महकी जिस्मो जां में
शायरी तुम्हारी यादों में ये कैसा जादू है दिल के शहर में हालात बेकाबू है तू गुलाब सी महकी जिस्मो जां में करवटों से भरी ये रात बेकाबू है…