jazbat.com
शायरी – दिल की आह न आए जुबां पे | shayari-love shayari-hindi shayari
अपने जिगर में कांटों को बोया इश्क जो होया तो जी भर रोया