jazbat.com
शायरी – मुझे दर्द की तलाश में तुम मिल ही गए
मुझे दर्द की तलाश में तुम मिल ही गए मेरे तन्हा सी राह में तुम मिल ही गए चांद निकला है प्यास की दो दरिया में इन निगाहों के आईने में तुम मिल ही गए…