jazbat.com
शायरी – रात देखा तुझे अहसास के झरोखों से
शायरी रात देखा तुझे अहसास के झरोखों से तुझे महसूस किया माज़ी की तस्वीरों से लाल दरिया में डूबा था कलेजा मेरा मैं बहुत रोया खूने-जिगर की आंखों से…