jazbat.com
शायरी – ये दगा देने की आदत जो तेरे खून में है
शायरी बेवफाई की सजा न किसी कानून में है ये दगा देने की आदत जो तेरे खून में है हमें जमाने में जीकर कोई खुशी न मिली एक दीवाने का मजा इश्क के जुनून में है…