jazbat.com
शायरी – पलकों में रखे अश्क न गिर पाते आंख से
शायरी छूते रहे वो दिल मेरा गजल की आग से जलते रहे हम रातभर शायर की बात से कहने लगे कि उनकी नज़र यूं उदास है पलकों में रखे अश्क न गिर पाते आंख से…