jazbat.com
शायरी – इश्क मुझको है तुमसे, चीजों से नहीं
शायरी मेरे जीवन में बड़ी दूर तक वीरानी है इस जमाने को इस बात पे हैरानी है एक मुद्दत से खुला है मेरा दरवाज़ा चोर तक को यहां आने में परेशानी है…