jazbat.com
शायरी – इस दिल को ये मंजूर है, तू खुश रहे हर हाल में
शायरी- कहता हूं मैं ये बात भी तेरी भलाई के लिए न चुन तू टूटी चूड़ियां अपनी कलाई के लिए इस दिल को ये मंजूर है, तू खुश रहे हर हाल में मुझसे न तू ये इश्क कर दर्दे-जुदाई के लिए…