jazbat.com
शायरी – तुम मेरे दिल में आ चुके, हम तेरे दिल से जा चुके
शायरी हम कितनी दूर आ चुके, तुम कितनी दूर जा चुके तुम मेरे दिल में आ चुके, हम तेरे दिल से जा चुके अब गैर कोई छू ले तुझे तो मुझे ऐतराज नहीं तेरे इश्क में हम जिस्म की जरूरत को गंवा चुके…