jazbat.com
शायरी – हुस्न क्या चीज है, उन आंखों में डूबकर जाना
शायरी हुस्न क्या चीज है, उन आंखों में डूबकर जाना इश्क क्या होता है, अश्कों को बहाकर जाना वो मुसलसल रहती है मेरे जिस्मो-जां में अपने खयालों की किताबों को पढ़कर जाना…