jazbat.com
शायरी – तू मेरे शहर से भी गुजर जाएगा एक दिन
तू अपनी आशिकी से ही बदनाम हुआ है हर कोई तुझे दुश्मन नजर आएगा एक दिन