jazbat.com
शायरी – अपने आशिक को इतनी तो वफा देना
दिल्लगी हो तेरा इश्क तो बता देना अपने आशिक को इतनी तो वफा देना