jazbat.com
शायरी – दिल को इश्क में जलने की किस्मत तो मिले | shayari-love shayari-hindi shayari
अंधेरा ही अंधेरा बिखरा है मेरे आंगन में चांद को इधर आने की मोहलत तो मिले