jazbat.com
शायरी – इश्क करते हैं हम एक खुदगर्ज से | shayari-love shayari-hindi shayari
दिल टूट रहा है तेरे दर्द से हम मरते रहे हर पल इस मर्ज से तेरे इश्क में ये समझ न सका इश्क करते हैं हम एक खुदगर्ज से हम अंधरे में अब क्यूं न रहें उजाले ही लगते जब बेदर्द से…