jazbat.com
शायरी – मुझे गले से लगाकर वो नगमा सुनाओ | shayari-love shayari-hindi shayari
तुम प्यार का चिराग आंचल में छुपाके लाओ मेरे पहलू में आकर आशियां रोशन बनाओ कभी प्यास होठों पे गीत बनके जो आए मुझे गले से लगाकर वो नगमा सुनाओ…