jazbat.com
शायरी – अब मुझे रोने का तरीका आया है
शायरी तेरे गम में अब मुस्कुराते हैं लब अब मुझे जीने का सलीका आया है दर्द उठने पै सूख जाती हैं आंखें अब मुझे रोने का तरीका आया है…