hvpespcet.wordpress.com
आदर्श जीवनचर्या
हमारे शरीर में मुख्य रूप से बारह अंग होते हैं| प्राण ऊर्जा चौबीस घंटों में सभी अंगों में जाती है| हर अंग में दो घंटे अधिकतम ऊर्जा का प्रवाह रहता है| इसके ठीक विपिरीत समय में ऊसी अंग में न्यूनतम ऊर्…