hisgloryinourstoryhindiversiongospels.wordpress.com
कहानी ८४: शिष्यों का भेजा जाना 
मत्ती ९:३५-१०:४२, मरकुस ६:६b-११, लूका ९ १-५ यीशु के जीवन के विषय में पढ़ते समय आपनी ध्यान दिया होगा कि, मत्ती के अध्याय पूरी तरह से मिल गए हैं। उद्धारण के लिये, हमने पांचवे अध्याय से लेकर सांतवे अध…