hindizen.com
धर्म का सार
पो चीन के तांग राजवंश में उच्चाधिकारी और कवि था. एक दिन उसने एक पेड़ की शाखा पर बैठे बौद्ध महात्मा को ध्यान करते देखा. उनके मध्य यह वार्तालाप हुआ: पो: “महात्मा, आप इस पेड़ की शाखा पर बैठकर ध्…