hindizen.com
पथ का निर्माण : Making the Path
जंगल में चराई के बाद किसी बछड़े को गाँव की गौशाला तक लौटना था. नन्हा बछड़ा था तो अबोध ही, वह चट्टानों, मिट्टी के टीलों, और ढलानों पर से उछलता-कूदता हुआ अपने गंतव्य तक पहुँचने में सफल हो गया. अगले द…