hindipoetryworld.wordpress.com
क्यूं करूं ?
राजी रहता जब रब , राजी रहते हैं सब फिर खुद को खुदा से मैं जुदा क्यूं करू ?