hindilovepoems.com
Waiting for Love Hindi Poem-सुनहरा पल
हृदय की अनकही बातें कभी जब लब पर आती हैं स्वरों में कम्पन होती है. स्वयं पलकें झुक जातीं हैं। कहीं भी दिल नहीं लगता मिलन की तीस सताती है कभी जब तन्हाई मे. किसी की याद आती है। प्रात: खुशियों से भर ज…