hindilovepoems.com
Cross-Cultural Love Story-बला होते
ज़ालिम , सितमगर , क़ातिल या बला होते तुम कुछ भी होते पर मेरी क़िस्मत में तो होते कुछ और जगह रखते अपने महल में मुलाजिम की तेरे सजदे में सर झुकाते और तेरी ख़िदमत में हम होते कभी चखने तो आते तुम मेरी …