hindilovepoems.com
Hindi Love Poem For Her-वो मृगनयनी
वो मृगनयनी शोख हसीना। मोहक रंगों वाली है। हिरनी सी है चाल अनोखी। चंचल चितवन वाली है। कजरारे नयनों में वो काजल खूब लगाती है। होंठों पर मुस्कान सजा के सबका होश उड़ाती है। कोमल कोपल पंखुरी लागे। रंग गु…