hindilovepoems.com
Romantic Hindi Poem- ए सनम !
ऐ सनम ! दिल की पनाहों में आजा प्यार तुमपे फिर बेशुमार आया है । है मोहब्बत ही मोहब्बत दिल में भरी, इतना तुमपे आज प्यार आया है । रहने दो छोड़ो बइयाँ मेरी, मारेंगी ताने सखियाँ मेरी, पूछेंगी बता कहाँ से…