hindilovepoems.com
Hindi Prem Kavita-कुछ ख़ास
कुछ ख़ास है कुछ ख़ास है .. तेरे पास होने का जो एहसास है .. हाँ कुछ खास है .. तू पास है मेरे आस पास है .. कुछ ख़ास है एहसास है तेरे मेरे बीच में जो होती बतियाँ याद करू तुझको तू जगाये रतियाँ आजा पास …