ecstasies.wordpress.com
मेरा पागल मन !
एक उजली सुबह, ख्यालों के बादल.. मेरे दिल के आँगन में, कुछ ओर नमी लेकर उतर आये..! मेरे तन्हा घर मे दस्तक दी… “कौन है ! कौन आया होगा ? ” “किसी ने भूलकर दरवाज़ा खटखटाया होगा !&…