dustdreamsnbeyond.wordpress.com
आज़ाद हम.
देश आज़ाद है मेरा, और मैं भी कल तुम भी थे और मैं भी और फिर दूसरे कल भी रहेंगे ऐसे ही, आज़ाद कमरों में बंद, टेलीविजन से चिपके, बम, जेहाद, आतंकवाद से डरे सहमे, माओं के कहने से घरों में रुके लाखों हम,…