awrighting.blog
भटकाव
बंद लकीरे मिटती है बनती है इक प्रश्न के साथ इक प्रश्न को त्याग कर ! रेखाओ का महत्त्व इतना है की सरहदों पर गोलियाँ चलती हैं! इक नासूर जो हर चीज में बावस्त है बहुत कुछ सड़ता रहता है बाहर आने के लिए ! …