arisebharat.com
पूजनीय श्री गुरुजी के अमृतवचन
हमारी तेजस्विनी मातृभूमि! यह है हमारी पवित्र भूमि भारत! देवताओं ने जिसकी महत्ता के गीत गाये है गायन्ती देवा: किल गीतकानि धन्यास्तु ये भारत भूमि भागे । स्वर्गापवर्गास्पद हेतु भूते भवन्ति भूय: पुरु…