anushkasuri.com
Hindi Love Poem – Khwabo mein jab aate ho
ख्वाबों में जब आते हो – हिंदी कविता ख्वाबों में जब आते हो क्यों इतना तड़पाते हो दिल के बाग़ के गुलाब हो तुम क्या कहूँ कितने लाजवाब हो तुम तुम्हें देख कर आहें भरती हूँ न दिखो कभी तो डरती ह…