anushkasuri.com
जब से तुम मिले हो-हिंदी कविता
जब से तुम मिले हो मेरे जानम दूर हुए हैं सारे गम भूल गए हम कि क्या थे हम ये भी याद नहीं अब क्या हैं हम शीशा देखें तो याद आते हो तुम सुबह की किरण से मुस्कुराते हो तुम फूलों से खूबसूरत और कमल से कोमल …