akscentre.wordpress.com
कहाँ शुरू, कहाँ ख़त्म
बात वर्ष १९६९ के उन दिनों कि है जब मैं हायर सेकेंडरी की परीक्षा पास कर इंजीनियर कालेज में दाखिले का इंतजार कर रहा था ! मेरा नाम चूंकि प्रतीक्षा सूची में था, अतः मैं कुछ दिनों के लिए मोतिहारी जाकर ए…